कार्यशालाएं 2022-23

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी, लखनऊ (संस्कृति विभाग उ0प्र0) एवं पद्मश्री अजिता श्रीवास्तव, मिर्जापुर के निर्देशन में दिनांक 05 मई से 14 मई, 2022 तक 10 दिवसीय कजरी गायन की कार्यशाला का आयोजन किया गया।

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी, लखनऊ (संस्कृति विभाग उ0प्र0) एवं संस्कार भारती जौनपुर के संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 25 मई से 14 जून, 2022 तक कथक नृत्य कार्यशाला का आयोजन अमित गुप्ता के निर्देशन में जौनपुर में किया गया।

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी, लखनऊ (संस्कृति विभाग उ0प्र0), संस्कार भारती मिर्जापुर संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 26 मई से 15 जून, 2022 तक पच्चीस दिवसीय कथक नृत्य की कार्यशाला का आयोजन श्री संतोष तिवारी के निर्देशन में किया गया।

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी, लखनऊ (संस्कृति विभाग उ0प्र0) एवं सांस्कृतिक समिति एवं राजकीय संग्रहालय, झाँसी के संयुक्त तत्वावधान तथा डॉ0 धन्नू लाल गौतम (अकादमी उपाध्यक्ष) के निर्देशन में दिनांक 04 जून से 10 जून, 2022 तक सात दिवसीय गायन, वादन कार्यशाला का आयोजन राजकीय संग्रहालय, झांसी में किया गया।

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी, लखनऊ (संस्कृति विभाग उ0प्र0) एवं दीप सामाजिक संस्थान, गोण्डा के संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 10 जून से 25 जून, 2022 तक पन्द्रह दिवसीय लोक नृत्य कार्यशाला का आयोजन उर्मिला पाण्डेय के निर्देशन में किया गया।

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी, लखनऊ (संस्कृति विभाग उ0प्र0) एवं बुन्देलखण्ड नाट्य कला केन्द्र, अभिनय प्रशिक्षण एवं कल्चरल रिसर्च सेन्टर, झांसी के संयुक्त तत्वावधान में 25 दिवसीय ‘मणिपुरी युद्ध कला एवं नृत्य शैली’ पर आधारित कार्यशाला का आयोजन दिनांक 10 जून से 04 जुलाई, 2022 तक किया गया। कार्यशाला निर्देशक श्री गुरु सिंह के निर्देशन में देश के विभिन्न प्रदेशों से आए 25 बच्चों ने ‘मणिपुरी युद्ध कला एवं नृत्यशैली का प्रशिक्षण प्राप्त किया तथा उस पर आधारित प्रस्तुति भी की।

उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी, लखनऊ (संस्कृति विभाग उ0प्र0) एवं श्री दीपक सिंह (अकादमी सदस्य) के निर्देशन में आज़ादी का अमृत महोत्सव के अन्तर्गत लोक कलाकारों का ‘‘सत्कार’’ कार्यक्रम दिनांक 19 जून, 2022 को झांसी में किया गया।

उ0प्र0 संगीत नाटक अकादमी लखनऊ (संस्कृति विभाग उ0प्र0) एवं राकेश सिंह यादव (अकादमी सदस्य) के संयुक्त तत्वावधान दिनांक 14 जुलाई, 2022 को गुरू पूर्णिमा के शुभ अवसर पर ‘सत्कार’ कार्यक्रम का आयोजन बाबा मख़दूम शाह आदर्श इन्टर कॉलेज, गाज़ीपुर में किया गया।

उ0प्र0 संगीत नाटक अकादमी एवं गगनिका, शाहजहांपुर के संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 15 जून, 22 से 24 जुलाई, 22 तक कप्तान सिंह ‘कर्णधार’ के निर्देशन में प्रस्तुतिपरक नाट्य कार्यशाला का आयोजन शाहजहाँपुर में किया गया। मुंशी प्रेमचन्द्र लिखित नाटक ‘बड़े भाई साहब’ का मंचन गांधी भवन प्रेक्षागृह, शाहजहाँपुर में किया गया।

उ0प्र0 संगीत नाटक अकादमी एवं रंग प्रशिक्षु थिएटर, बरेली के संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 20 जून से 20 जुलाई, 2022 तक गरिमा सक्सेना के निर्देशन में तीस दिवसीय प्रस्तुति परक नाट्य कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें तैयार प्रस्तुति ‘वीर अभिमन्यु’ का मंचन आई.एम.ए सभागार, बरेली में किया गया। आयोजित कार्यशाला में 21 प्रतिभागियों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। उक्त प्रस्तुति पंडित राधेश्याम कथावाचक द्वारा लिखित पारसी शैली पर आधारित थी।

उ0प्र0 संगीत नाटक अकादमी एवं अथर्व कल्चरल सोसाइटी, शाहजहांपुर के संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 10 जुलाई, 22 से 10 अगस्त, 22 तक श्री योगेश पाण्डे के निर्देशन में प्रस्तुति परक नाट्य कार्यशाला का आयोजन लखीमपुर खीरी में किया गया। इस कार्यशाला में 23 प्रतिभागियों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। कार्यशाला समापन पर नाटक ‘‘भोलाराम का जीव’’ का मंचन बाज़ार स्थल ग्राम पतवन तहसील-मोहम्मदी, ज़िला-खीरी में किया गया। हरिशंकर पारसाई की कहानी का नाट्य रूपान्तर करन कुमार ने किया और नौटंकी तथा अल्हा की पारम्परिक शैली में इसका निर्देशन योगेश पाण्डेय ने किया।